मुखपृष्ठ
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
Sahityasudha
वर्ष: 4, अंक 71, अक्टूबर(द्वितीय), 2019

भोजपाल साहित्य संस्थान , भोपाल की मासिक काव्य गोष्ठी
दिनांक 28 सितम्बर 2019 को भोपाल में संपन्न

साहित्य के क्षेत्र में निरंतर सक्रिय संस्था , भोजपाल साहित्य संस्थान , भोपाल की मासिक साहित्यिक गोष्ठी का आयोजन दिनांक 28 सितम्बर 2019 को भोपाल हाट परिसर स्थित ’9 एम मसाला रेंस्तरां’ में किया गया। कार्यक्रम संस्था के कार्यकारी अध्यक्ष श्री सुदर्शन सोनी की अध्यक्षता ,वरिष्ठ साहित्यकार श्री अशोक व्यास के मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ।

कार्यक्रम में वरिष्ठ व्यंग्यकार श्री अशोक व्यास, दुर्गारानी श्रीवास्तव , श्री के के दुबे , श्री जयपाल सिंह ,सुश्री सरिता , श्री चन्द्रभान राही , आदि उपस्थित थे । श्री अशोक व्यास द्वारा सशक्त सामयिक व्यंग्य ’मेरे अनमोल रतन आयेंगे’ , दुर्गारानी श्रीवास्तव द्वारा कविता ’नार्यस्तु पूजयंते के देशु में पशु घूमते मनुज के वेश में’ का श्रोताओं को मुग्ध करने वाला पाठन किया। चन्दभान राही द्वारा शेर ’जब जब हमें पीठ में खंजर लगा है हमने अक्सर अपने को दोस्तों के बीच पाया है’। मुम्बई से पधारी सुश्री सरिता द्वारा बालीलीवुड पर हास्य कविता का पाठन किया। संस्था के कार्यकारी अध्यक्ष सुदर्शन सोनी द्वारा व्यंग्य ’ कवि सम्मेलन आयोजन के लिये पापड़ बिलाई’ का पाठन किया जिसे खूब सराहा गया ।

कार्यक्रम का संचालन श्री चन्द्रभान राही व आभार प्रदर्शन दुर्गारानी श्रीवास्तव द्वारा किया गया ।

प्रियदर्शी खैरा
90-91, यशोदा विहार , भोपाल
मध्यप्रदेष।


कृपया रचनाकार को मेल भेज कर अपने विचारों से अवगत करायें