Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 3, अंक 49, नवम्बर(द्वितीय) , 2018



बाल दिवस पर कुछ हाइकु


कमला घटाऔरा


                         
1.
बाल दिवस याद दिलाये चाचा नेहरू चाचा ।
2.
स्वप्न माली के जगती आँखों देखे खिलते फूल ।
3.
राष्ट्र भविष्य सुयोग्य नागरिक उन्नत देश ।
4.
हे कर्णधारो ! सोचो स्वदेश हित हो क्या प्रथम ?
5.
नन्हे हाथों से श्रम करे कठोर बेबस बच्चे ।
6.
सुधरे कब जीवन गरीब का पूछे जननी ?
7.
फुटपाथों पे गुजरी उम्र , हाय! मिला न घर ।
8.
प्यार चाचा-सा हा! कोई तो लुटाये नन्हे फूलों पे ।
9.
रौशन रहे हर घर बच्चों से देश भविष्य ।
10.
शिक्षा हो ऐसी लिखे भविष्य खुद बच्चे अपना ।  

कृपया रचनाकार को मेल भेज कर अपने विचारों से अवगत करायें