मुखपृष्ठ
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
Sahityasudha
वर्ष: 4, अंक 81, मार्च(द्वितीय), 2020

मुश्किल है

गरिमा

प्यार छुपाना आसान है, प्यार निभाना मुश्किल है, सांस लेना आसान है, सांसों का टूट जाना मुश्किल है, दूसरों का दिल दुखाना आसान है, दूसरे के होठों पर हंसी लाना मुश्किल है, नदी का समुंदर में मिलना आसान है, नदी का किनारा आपस में मिलना मुश्किल है, पीने के लिए मयखाने में जाना आसान है, पीना छोड़ना बहुत मुश्किल है, प्रेमिका का मिलना आसान है, एक अच्छी बीवी का मिलना मुश्किल है, मौत बहुत आसान है, जीवन जीना मुश्किल है, तो आओ यारों मुश्किल से खेले, मुश्किल को मुश्किल बनाना मुश्किल है।।


कृपया रचनाकार को मेल भेज कर अपने विचारों से अवगत करायें