Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 3, अंक 56, मार्च(प्रथम) , 2019



मम्मी मुझको तुम बतलाओ


सुशील शर्मा


        
मम्मी मुझको तुम बतलाओ।
इतना तो मुझको समझाओ।
रंग बिरंगे फूल क्यों खिलते।
जुगनू झिम झिम क्यों हैं जलते।
पक्षी हवा में कैसे उड़ते।
टूटे तारे कैसे जुड़ते।
रिमझिम पानी कैसे गिरता।
झरना झर झर क्यों है झरता।
रहते ये भगवान कहाँ हैं।
अच्छे से इंसान कहाँ हैं।
किसने यह स्कूल बनाया
कठिन पाठ हमको पढ़वाया।
हरे रंग का क्यों है पौधा।
आसमान क्यों लटका औंधा।
पापा क्यों बच्चों को डांटें ।
सारा ज्ञान हमीं को बाँटें।
मम्मी मुझको तुम बतलाओ।
इतना तो मुझको समझाओ।
     

कृपया रचनाकार को मेल भेज कर अपने विचारों से अवगत करायें