Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 3, अंक 53, जनवरी(द्वितीय) , 2019



हाइकु


अशोक कुमार ढोरिया


                    
1.
चुप बैठे हैं मौके की तलाश में निठल्ले नहीं
2.
शीशे जैसी ही रखवाली रिश्तों की कोई जाने तो
3.
ओ मूर्तिकार दे दे मुझे आकार मैं पत्थर हूँ
4.
ढलती उम्र दिखाई नहीं देती घटती साँसें
5.
मेरे साथी हैं महावीर निर्दोष साहित्य प्रेमी
6.
प्यारी किताबें मन हैं बहलाती ज्ञान बढ़ाती
7.
खा जाते हैं हमारे शरीर को चिंता-तनाव
8.
ग़ज़ल प्रेमी ये सत्यवान सत्य मेरे साथी हैं
9.
कौन जानता बिन कविताई के बीते पल में
10.
हाथ बढ़ाया साहित्य जगत में सच्चे दिल से

कृपया रचनाकार को मेल भेज कर अपने विचारों से अवगत करायें