Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 2, अंक 31, फरवरी(द्वितीय), 2018



बोलो सत्य


डॉ.प्रमोद सोनवानी पुष्प


 

बच्चों हरपल बोलो सत्य ।
बोलो न तुम कभी असत्य ।।

सत्य में ही जीत है ।
युग पुरुषों का गीत है ।।

मिलकर गायें हम यह गीत ।
सत्य में है हरपल जीत ।।

सत्य बोल अपनाना है ।
सत्यवान कहलाना है ।।
 

कृपया रचनाकार को मेल भेज कर अपने विचारों से अवगत करायें