Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 3, अंक 51, दिसम्बर(द्वितीय) , 2018



हाइकु


अशोक कुमार ढोरिया


 
1.
कवि कहते बात गहराई की छूटे न कोय
2.
कवि बताते बात मरहम की जाने न कोय
3.
ग्रन्थों के बीच पाठक का जीवन व्यस्त जिंदगी
4.
हर गरीब मजबूर होकर आता करीब
5.
नन्हीं सी कली आई पाने जीवन माँ की कोख में

कृपया रचनाकार को मेल भेज कर अपने विचारों से अवगत करायें