Sahityasudha

साहित्यकारों की वेबपत्रिका

साहित्य की रचनास्थली

यूनिकोड फॉण्ट में टाइप करने वाले सॉफ्टवेयर को
डाउनलोड करने के लिये इस लिंक ↓पर क्लिक करें।


"साहित्यसुधा" की एप्प डाउनलोड करने के लिए इस लिंक ↓ पर क्लिक करें ।

रचनाकारों से निवेदन है कि अपनी रचनाएँ माइक्रोसॉफ़्ट वर्ड में टाइप करके अलग से अपनी मेल के साथ संलग्न करें।

वर्ष: 4, अंक 74, दिसंबर(प्रथम), 2019

लेखक या सम्पादक की लिखित अनुमति के बिना पूर्ण या आंशिक रचनाओं का पुनर्प्रकाशन वर्जित है। लेखक के विचारों के साथ सम्पादक का सहमत या असहमत होना आवश्यक नहीं। सर्वाधिकार सुरक्षित। साहित्यसुधा में प्रकाशित रचनाओं में विचार लेखक के अपने हैं और साहित्यसुधा टीम का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है। साहित्यसुधा एक सम्पूर्णतः साहित्यिक पत्रिका है जिसका उद्देश्य सभी रचनाकारों को प्रोत्साहित करके हिंदी को बढ़ावा देना है | इसके माध्यम से हिंदी साहित्य की सभी विधाओं को सम्मिलित करने का प्रयास किया जाएगा।

साहित्यसुधा

संपादकीय मंडल:-

संपादक - डॉ०अनिल चड्डा 

सह-संपादक - अखिल भंडारी  Akhil Bhandari

साहित्यिक समाचार





डॉ० दिग्विजय शर्मा को "क्रांतिधरा अंतरराष्ट्रीय साहित्य साधक सम्मान"

मेरठ वह क्रांतिधरा की भूमि है जहाँ भारत की प्रथम आजादी की लड़ाई 10 मई 1857 को मेरठ से शुरू की गई थी। भारत के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में यह दिनांक दर्ज है मेरठ से भारत में आजादी के आंदोलन की शुरुआत हुई जो बाद में पूरे देश में फैल गई ।साथियों आपको बताते हुए हर्ष हो रहा है की इस क्रांतिधरा पर तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय हिंदी महाकुंभ में जिसे मेरठ में क्रांतिधरा (लिटरेचर) ..............पूरा पढ़ें






डॉ० दिग्विजय शर्मा को "क्रांतिधरा अंतरराष्ट्रीय साहित्य साधक सम्मान"

मेरठ वह क्रांतिधरा की भूमि है जहाँ भारत की प्रथम आजादी की लड़ाई 10 मई 1857 को मेरठ से शुरू की गई थी। भारत के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों में यह दिनांक दर्ज है मेरठ से भारत में आजादी के आंदोलन की शुरुआत हुई जो बाद में पूरे देश में फैल गई ।साथियों आपको बताते हुए हर्ष हो रहा है की इस क्रांतिधरा पर तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय हिंदी महाकुंभ में जिसे मेरठ में क्रांतिधरा (लिटरेचर) ..............पूरा पढ़ें






ग्लोरि अवॉर्ड 2019 से डॉ गुलाब चंद पटेल सम्मानित

इन्द्र प्रस्था एजुकेशन एंड रिसर्च ट्रस्ट जयपुर के अध्यक्ष श्रीमती काजल यादव द्वारा जयपुर में सामाजिक कार्य कर, व्यसन मुक्ति कार्य अभियान प्रणेता ब्रेस्ट कैंसर अवेर्नेस प्रोग्राम आयोजक तथा हिन्दी गुजराती कवि लेखक अनुवादक और, भूत पूर्व ऑफिस सुपरिटेंडेंट जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक ऑफिस अहमदाबाद, इंडियन लायंस गांधी नगर स्वर्णिम क्लब के डॉ गुलाब चंद पटेल ..............पूरा पढ़ें






क्रांति धरा मेरठ अंतरराष्ट्रीय साहित्य साधक सम्मान 2019 से सम्मानित हुए डॉ गुलाब चंद पटेल

क्रांतिधरा साहित्य अकादमी द्वारा 18 - 19 - 20 दिसम्बर 2019 को तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय साहित्यिक आयोजन " मेरठ लिटरेरी फैस्टिवल " का आयोजन किया गया था |इस अनूठे और अद्वितीय कार्यक्रम में मुख्य अतिथि जूनापीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी जी महाराज, महामंडलेश्वर अपूर्णानंद व आचार्य शांतिदूत डॉ. लोकेश मुनी जी तथा जापान, ..............पूरा पढ़ें






छंद परिवार द्वारा दीपावली मिलन एवं कवि सम्मेलन संपन्न

रायपुर -- छत्तीसगढ़ी भाषा साहित्य के लिए समर्पित साहित्यक परिवार "छंद के छ" का राज्य स्तरीय छंदमय कवि सम्मेलन और दीपावली मिलन कार्यक्रम का आयोजन विगत दिनों मंगल भवन चंद्राकर छात्रावास महादेव घाट रोड डंगनिया रायपुर में हुआ । छंद के छ के संस्थापक छंदविंद गुरुदेव श्री अरुण कुमार निगम के मार्गदर्शन , श्री बलराम चंद्राकर जी और श्री सूर्यकांत गुप्ता जी के ..............पूरा पढ़ें






साहित्य संगम संस्थान दिल्ली द्वारा हिंदी रचनाकार सम्मानित हुये

कार्यक्रम संयोजक नवीन कुमार भट्ट नीर ने बताया कि साहित्य संगम संस्थान दिल्ली द्वारा फेसबुक पटल पर 25 अक्टूबर से 31 अक्टूबर 2019 तक "एक खत हिंदी के उत्थान पर" साहित्य संगम के नाम पत्र लिखकर कार्यक्रम को सफल बनाने वाले प्रतिभागियों को हिंदी साधक सम्मान से नवाजा गया है।ज्ञातव्य हो कि यह कार्यक्रम 13/11/2019 बुधवार को सम्मानशाला में आयोजित किया गया,इस हिंदी साधक सम्मान समारोह के मुख्य अतिथि भवानी मंडी ..............पूरा पढ़ें






साहित्य संगम संस्थान दिल्ली द्वारा हिंदी रचनाकार सम्मानित हुये

सुपरिचित बालसाहित्यकार ओमप्रकाश क्षत्रिय 'प्रकाश' को साहित्य सृजन, हिन्दी के प्रचार-प्रसार एवं बालसहित्य उन्नयन के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए त्रिदिवसीय क्रान्तिधरा मेरठ साहित्यिक महाकुम्भ 2019 में आज दिनांक 20 नवम्बर 2019 को अंतरराष्ट्रीय हास्य कवि एवं शायर डॉ एजाज पॉपुलर मेरठी , श्री सरण घई ( कनाडा) , श्री कपिल कुमार (बेल्जियम ), श्री रामदेव धुरंधर ( मारीशस), ..............पूरा पढ़ें






बाल दिवस पर बाल रत्न सम्मान पाकर खिले चेहरे

भवानीमंडी:- बाल दिवस के उपलक्ष्य मे साहित्य संगम संस्थान मुख्य मंच पर शानदार कवि सम्मेलन बच्चो को लिए एक शाम नन्हे मुन्ने बच्चों के उमगं तऱंग लिए संगम के साथ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। बिलासपुर छतीसगढ़ की प्रदेश मीडिया प्रभारी सरोज सिंह ठाकुर ने बताया कि इस भव्य कवि सम्मेलन में देश के अनेक प्रांन्तो से काफी बच्चो ने विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम लेखन चित्रकला,गायन आडियो विडियो द्वारा शानदार प्रस्तुति देकर कार्यक्रम मे चार चांद लगा दिये। ..............पूरा पढ़ें






देवेंद्रराज सुथार को दिल्ली में ‘हिन्दी सेवा सम्मान’


नई दिल्ली 08 नवंबर शाम को भारत के प्रमुख हिन्दी समाचार एवं विचार वेब पोर्टल प्रभासाक्षी ने अपनी 18वीं वर्षगांठ पर उल्लेखनीय लेखन, हिन्दी सेवा, पत्रकारिता के लिए बागरा कस्बे के देवेंद्रराज सुथार को ‘हिन्दी सेवा सम्मान’ से सम्मानित किया। कांस्टीटूशनल क्लब नई दिल्ली में आयोजित एक भव्य समारोह में पूर्व राज्यसभा सांसद एवं प्रख्यात लेखक तरुण विजय, ..............पूरा पढ़ें






तुलसी सम्मान-2019 चयनित साहित्यकारों की घोषणा

तुलसी साहित्य अकादमी -भोपाल म.प्र.द्वारा तुलसी सम्मान-2019 चयनित साहित्यकारों की घोषणा की गई है- 1.तुलसी शिखर सम्मान- श्री घनश्याम सक्सेना भोपाल 2.तुलसी सम्मान- 1.डा.प्रदीप सुमनाक्षर-दिल्ली 2.डा.वासुदेवन शेष चैन्नै 3.श्री भानुप्रताप सिंह प्रतापगढ़ 4.डा.(मानद)सुशील शर्मा गाडरवारा म.प्र. 5.श्री एस.एन.चौहान इंदौर 6.श्री सतीश चन्द्र श्रीवास्तव भोपाल..............पूरा पढ़ें




संपादक की ओर से

“कुछ तुम भूलो, कुछ वो भूलें”
गुज़री बातों को याद करो तो क्या मिलना है, हर रोज ही तो इक बात नई से जी जलना है । कितने छाले फोड़ो गे, दिल कितना छोड़ो गे, खुशियों की सौगात को तुम कितना मोड़ो गे, जीने को हालात के संग ही तो चलना है । कुछ तुम भूलो, कुछ वो भूलें तो बात बनेगी, ग़र थाम लो उसका हाथ, सुलभ हर राह कटेगी, वर्ना ठोकर लगने से मुश्किल होगा संभलना ।      - डॉ० अनिल चड्डा

अब तक

आपके पत्र



आदरणीय अनिल जी,

नमस्कार

अंक लगातार पढ़ रहा हूँ । आपकी यह उद्यमिता खुशी देती मुझे भी । वाकई बड़ा काम ही है । प्रवासी संसार में रहकर यह सब कर गुज़रना बेहद प्रशंसनीय है - आपकी भाषा व साहित्य के प्रति रागात्मकता का जीवंत प्रमाण है "साहित्य सुधा"।

Jay prakash Manas

डा. अनिल चड्ढा जी,

सादर नमस्कार।

'साहित्य सुधा' का नया अंक पढ़ने को मिला। आपके प्रयास और लग्न को साधुवाद। xxx

सदैव शुभ कामनाओं सहित

कविता

इस अंक में

गीत, गज़ल, इत्यादि

आलेख, कहानियाँ, व्यंग्य, इत्यादि

कृपया अपनी रचनाएँ,जो मौलिक होनी चाहिए और यूनिकोड फॉण्ट में टंकित हों, निम्नलिखित
ई-मेल पर भेजें :-

sahityasudha2016@gmail.com
[यूनिकोड फॉण्ट में टाइप करने वाले सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें]

गोपनीयता नीति

"साहित्यसुधा को सब्सक्राइब करें"

सहित्यसुधा की सूचना पाने के लिये कृपया अपना ई-मेल पता भेजें