Sahityasudha

साहित्यकारों की वेबपत्रिका

साहित्य की रचनास्थली

यूनिकोड फॉण्ट में टाइप करने वाले सॉफ्टवेयर को
डाउनलोड करने के लिये इस लिंक ↓पर क्लिक करें।


"साहित्यसुधा" की एप्प डाउनलोड करने के लिए इस लिंक ↓ पर क्लिक करें ।

रचनाकारों से निवेदन है कि अपनी रचनाएँ माइक्रोसॉफ़्ट वर्ड में टाइप करके अलग से अपनी मेल के साथ संलग्न करें।

वर्ष: 4, अंक 71, अक्टूबर(द्वितीय), 2019

लेखक या सम्पादक की लिखित अनुमति के बिना पूर्ण या आंशिक रचनाओं का पुनर्प्रकाशन वर्जित है। लेखक के विचारों के साथ सम्पादक का सहमत या असहमत होना आवश्यक नहीं। सर्वाधिकार सुरक्षित। साहित्यसुधा में प्रकाशित रचनाओं में विचार लेखक के अपने हैं और साहित्यसुधा टीम का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है। साहित्यसुधा एक सम्पूर्णतः साहित्यिक पत्रिका है जिसका उद्देश्य सभी रचनाकारों को प्रोत्साहित करके हिंदी को बढ़ावा देना है | इसके माध्यम से हिंदी साहित्य की सभी विधाओं को सम्मिलित करने का प्रयास किया जाएगा।

साहित्यसुधा

संपादकीय मंडल:-

संपादक - डॉ०अनिल चड्डा 

सह-संपादक - अखिल भंडारी  Akhil Bhandari

साहित्यिक समाचार



डॉ दिग्विजय शर्मा सम्मानित

हरियाणा की प्रगतिशील साहित्यिक संस्था 'निर्मला स्मृति साहित्यिक समिति' चरखी दादरी (हरियाणा) की साहित्य को समर्पित संस्था द्वारा हिंदी उत्सव के अवसर पर 29 सितंबर 2019 को अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन एवं सम्मान समारोह का आयोजन सरस्वती विद्या विहार सभागार में किया गया। यह हरियाणा के शहर चरखी दादरी में एक भव्य ऐतिहासिक यादगार आयोजन किया गया। ..............पूरा पढ़ें




लखनऊ में जागरूकता रैली

50वें 'विश्व डाक दिवस' के अवसर पर डाक सेवाओं के बारे में जन-जागरूकता लाने और व्यापक प्रचार-प्रसार के क्रम में डाक विभाग द्वारा 9 अक्टूबर को राजधानी लखनऊ में एक विशाल रैली का आयोजन किया गया। उत्तर प्रदेश के चीफ पोस्टमास्टर जनरल श्री कौशलेन्द्र कुमार सिन्हा ने निदेशक डाक सेवाएं श्री कृष्ण कुमार यादव और श्री राजीव उमराव की उपस्थिति में परिमण्डल कार्यालय ..............पूरा पढ़ें




गाँधी डाक टिकट प्रदर्शनी का समापन

महात्मा गाँधी विश्व के उन महान नेताओं में शामिल हैं जिन्होंने अपने विचार और कर्म से पूरी दुनिया का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया। दुनिया के तमाम देशों ने बापू की 150वीं जयंती पर डाक टिकट जारी करके उनकी विरासत व मूल्यों को आगे बढ़ाने का कार्य किया है। गाँधी जी पर जारी डाक टिकटों के माध्यम से युवा पीढ़ी उनके व्यक्तित्व के तमाम आयामों से रूबरू हो प्रेरणा पा रही है। उक्त उद्गार उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री ..............पूरा पढ़ें



पुस्तक विमोचन व विराट कवि सम्मेलन सम्पन्न

रायगढ़* :- औद्योगिक व वनांचल तहसील तमनार के नवदुर्गा समिति बरभांठा द्वारा पुस्तक विमोचन एवं विराट कवि सम्मेलन का सफल आयोजन गत् दिवसांक 05 अक्टूबर को किया गया । उक्त आयोजन के मुख्य अतिथि रायगढ़ के ख्यातिलब्ध साहित्यकार पं. शिवकुमार पाण्डेय जी , कार्यक्रम अध्यक्ष गजलकार शुकदेव पटनायक जी , विशिष्ट अतिथि प्रो. के. के. तिवारी जी व कवि कमल बहिदार जी थे । ..............पूरा पढ़ें




राजीव डोगरा को मिला सम्मान

साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली के बोली विकास मंच कार्यक्रम में राजीव को उनकी प्रस्तुति के लिए बोली वीर सम्मान दिया गया। साहित्य संगम संस्थान के अध्यक्ष राजवीर सिंह कार्यक्रम की अध्यक्ष मीना भट्ट जी (से. नि. न्यायाधीश जबलपुर), संयोजक अशीष पांडे जिद्दी ने सम्मान देते हुए राजीव केउज्जवल भविष्य की कामना की।ठाकुरद्वारा के हेड मास्टर मोहिंदर सिंह,..............पूरा पढ़ें




मासिक काव्य गोष्ठी भोपाल में संपन्न

साहित्य के क्षेत्र में निरंतर सक्रिय संस्था , भोजपाल साहित्य संस्थान , भोपाल की मासिक साहित्यिक गोष्ठी का आयोजन दिनांक 28 सितम्बर 2019 को भोपाल हाट परिसर स्थित ’9 एम मसाला रेंस्तरां’ में किया गया। कार्यक्रम संस्था के कार्यकारी अध्यक्ष श्री सुदर्शन सोनी की अध्यक्षता ,वरिष्ठ साहित्यकार श्री अशोक व्यास के मुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ।..............पूरा पढ़ें



संपादक की ओर से

“कितने रावण?”
       
ऐ रावण,
यदि तुम तक
मेरी आवाज
पहुँच रही हो तो
मेरा एक संशय
दूर कर दो
तुम्हारा तो
राम ने
वध किया था
फिर से
कैसे
जीवित हो जाते हो?
यदि ऐसा नहीं तो
हर वर्ष
तुम्हारा पुन:
वध कर
क्यों जलाया जाता है तुम्हे?
और फिर 
कैसे
पुन: जीवित हो उठते हो?
तुम्हारे तो केवल
दस सिर थे!
कहाँ से लाते हो
इतने सिर
जिसे आज का 
हर व्यक्ति
उठाए घूम रहा है
अपने कांधे पर
तुम्हे तो 
मै फिर भी
मार लूंगा
पर
उनका क्या करूँ
जो 
तुम्हारा सिर लगाये
विचर रहे हैं
राम की
वेशभूषा में
यहाँ-वहाँ!
जहाँ-तहाँ!!

 
     - डॉ० अनिल चड्डा

अब तक

आपके पत्र



आदरणीय अनिल जी,

नमस्कार

अंक लगातार पढ़ रहा हूँ । आपकी यह उद्यमिता खुशी देती मुझे भी । वाकई बड़ा काम ही है । प्रवासी संसार में रहकर यह सब कर गुज़रना बेहद प्रशंसनीय है - आपकी भाषा व साहित्य के प्रति रागात्मकता का जीवंत प्रमाण है "साहित्य सुधा"।

Jay prakash Manas

डा. अनिल चड्ढा जी,

सादर नमस्कार।

'साहित्य सुधा' का नया अंक पढ़ने को मिला। आपके प्रयास और लग्न को साधुवाद। xxx

सदैव शुभ कामनाओं सहित

कविता

इस अंक में

गीत, गज़ल, इत्यादि

आलेख, कहानियाँ, व्यंग्य, इत्यादि

आलेख

1.अमित डोगरा -

(i)सच्चाई और धर्म का
 प्रतीक नवरात्रि

(ii)सत्य और अहिंसा के पुजारी
 राष्ट्रपिता महात्मा गांधी

(iii)असत्य पर सत्य की जीत
 का पर्व विजयदशमी


2.अंजली श्रीवास्तव -

(i)विचार प्रवाह

3.डॉ०चंद्रेश कुमार छतलानी -

(i)रावण से राम तक

4.घनश्याम बादल -

(i)कलियुग का चमत्कार: डेढ़ सौ
 साल बाद भी गांधी आबदार

(ii)बदलें सोच व चिंतन
 ‘पूज्या’ नहीं ‘सक्षम’ बनें ‘नवदुर्गाएँ’

(iii)संकट में पड़ीं धर्मध्वजा
 की वाहक रामलीलाएँ


5.डॉ० श्रीमती नीना छिब्बर -

(i)दशानन

6.राजेन्द्र वर्मा -

(i)अमर और अमिट गांधी

7.राजेश भंडारी "बाबु" -

(i) लोकतंत्र और महात्मा गाँधी


8.राजेश कुमार शर्मा"पुरोहित" -

(i)गांधी दर्शन में निहित है
 प्राणीमात्र के कल्याण की भावना



9.राजीव डोगरा -

(i)गांधी जयंती विशेष


10.डॉ० सच्चिदानन्द झा -

(i)समुद्र मंथन

11.डा श्रीगोपाल नारसन एडवोकेट -

(i) ग्लोबल सम्मिट स्टोरी
(ii) त्रेता और द्वापर युग में
 भी मनती थी दिपावली!


12.सुनील पोरवाल "शेलु" -

(i) मातृभूमि और मातृशक्ति
 का राष्ट्र : हिंदुस्तान



कृपया अपनी रचनाएँ,जो मौलिक होनी चाहिए और यूनिकोड फॉण्ट में टंकित हों, निम्नलिखित
ई-मेल पर भेजें :-

sahityasudha2016@gmail.com
[यूनिकोड फॉण्ट में टाइप करने वाले सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें]

गोपनीयता नीति

"साहित्यसुधा को सब्सक्राइब करें"

सहित्यसुधा की सूचना पाने के लिये कृपया अपना ई-मेल पता भेजें