Sahityasudha

साहित्यकारों की वेबपत्रिका

साहित्य की रचनास्थली

यूनिकोड फॉण्ट में टाइप करने वाले सॉफ्टवेयर को
डाउनलोड करने के लिये इस लिंक ↓पर क्लिक करें।


"साहित्यसुधा" की एप्प डाउनलोड करने के लिए इस लिंक ↓ पर क्लिक करें ।

रचनाकारों से निवेदन है कि अपनी रचनाएँ माइक्रोसॉफ़्ट वर्ड में टाइप करके अलग से अपनी मेल के साथ संलग्न करें।

वर्ष: 4, अंक 79, फरवरी(द्वितीय), 2020

लेखक या सम्पादक की लिखित अनुमति के बिना पूर्ण या आंशिक रचनाओं का पुनर्प्रकाशन वर्जित है। लेखक के विचारों के साथ सम्पादक का सहमत या असहमत होना आवश्यक नहीं। सर्वाधिकार सुरक्षित। साहित्यसुधा में प्रकाशित रचनाओं में विचार लेखक के अपने हैं और साहित्यसुधा टीम का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है। साहित्यसुधा एक सम्पूर्णतः साहित्यिक पत्रिका है जिसका उद्देश्य सभी रचनाकारों को प्रोत्साहित करके हिंदी को बढ़ावा देना है | इसके माध्यम से हिंदी साहित्य की सभी विधाओं को सम्मिलित करने का प्रयास किया जाएगा।

साहित्यसुधा

संपादकीय मंडल:-

संपादक - डॉ०अनिल चड्डा 

सह-संपादक - अखिल भंडारी  Akhil Bhandari

साहित्यिक समाचार





एकदिवसीय राष्ट्रीय शिक्षक उन्नयन कार्यशाला संपन्न

बिशप कॉटन वीमेन्स क्रिश्चियन कॉलेज की ओर से एकदिवसीय राष्ट्रीय शिक्षक उन्नयन कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें विभिन्न महाविद्यालयों के लगभग 75 हिंदी शिक्षक-शिक्षिकाओंऔर छात्राओं ने प्रतिभागिता निभाई। अवसर पर बेंगलुरु केंद्रीय विश्वविद्यालय एवं बेंगलुर विश्वविद्यालय के बी.काम. द्बितीय सेमेस्टर की पाठ्यपुस्तक 'काव्य मधुवन' एवं 'काव्य निर्झर' की कविताओं व उनके कवियों पर विशेषज्ञों के ..............पूरा पढ़ें






बसंत पंचमी हर्सोल्लास के साथ मनाई गई




पंडरिया -- ज्ञान की देवी माँ सरस्वती के प्रकटोत्सव पर शा प्राथमिक शाला डोमसरा व पूर्व माध्यमिक शाला डोमसरा में बसंत पंचमी को धूमधाम से मनाया गया । सबसे पहले बुद्धिदायिनी माँ सरस्वती के तैल चित्र पर पूजा अर्चना कर कार्यक्रम की शुरुआत की गई । बच्चों के द्वारा माँ सरस्वती की वंदना मधुर स्वर में गाई गई । इस अवसर पर विद्यालय के शिक्षक श्री महेन्द्र देवांगन "माटी" के द्वारा ..............पूरा पढ़ें






नीर ने छात्र गजेन्द्र सिंह को आदर्श विद्यार्थी सम्मान से सम्मानित किया




सम्मानित कर्ता नवीन कुमार भट्ट "नीर" ग्राम मझगवाँ पो.सरसवाही द्वारा बताया गया कि शास.हायर सेकेन्डरी स्कूल सरसवाही में अध्यनरत छात्र गजेन्द्र सिंह पिता रामरतन सिंह निवासी बरतराई ने माध्यमिक शिक्षा मण्डल मध्यप्रदेश द्वारा आयोजित वर्ष 2019 की हाई स्कूल परीक्षा में 93.4 प्रतिशत अंक अर्जित किया।छात्र ने अपने अथक परिश्रम,शिक्षाप्रेम,संकल्पित कर्मठता,लग्नशील से बहुमुखी ..............पूरा पढ़ें




<




राजेश शर्मा नेशनल अवार्ड से सम्मानित

भवानीमंडी :- राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सूलिया (झालावाड) के शिक्षक को अमृतसर (पंजाब) में नवोदय क्रांति परिवार भारत द्वारा नेशनल अकेडमी ऑफ फाइन आर्ट्स ऑडिटोरियम में गवर्नमेंट टीचर्स ऑफ इंडिया के लिए आयोजित द्वितीय राष्ट्रीय अधिवेशन में नेशनल अवार्ड से सम्मानित किया गया है। ..............पूरा पढ़ें






राजीव डोगरा को मिला भारतेंदु सम्मान




भाषा अध्यापक राजीव डोगरा को मिला भारतेंदु सम्मान साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली के गीतशाला मंच के द्वारा गणतंत्र दिवस के अवसर पर ऑनलाइन कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया।जिसमें राजीव डोगरा को उनकी प्रस्तुति के लिए भारतेंदु सम्मान से सम्मानित किया गया। उनको यह समान संस्था के अध्यक्ष राजवीर सिंह मंत्र,संयोजिका सरोज ठाकुर तथा साहित्यालंकारक नवल सिंह ..............पूरा पढ़ें






राष्ट्र प्रेमी सम्मान से राजीव डोगरा सम्मानित





मीन साहित्य संस्कृति मंच हरियाणा ने गणतंत्र दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में राजीव डोगरा को उनकी प्रस्तुति के लिए राष्ट्र प्रेमी सम्मान से सम्मानित किया गया।उनको यह सम्मान मंच की संस्थापका डॉक्टर मीना कुमारी सोलंकी के कर कमलों से प्राप्त हुआ। डॉ मीना ने राजीव को अवार्ड देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।सम्मान मिलने पर उनके स्कूल के मुख्याध्यापक महेंद्र सिंह ..............पूरा पढ़ें




संपादक की ओर से

“कुछ तुम भूलो, कुछ वो भूलें ”
गुज़री बातों को याद करो तो क्या मिलना है, हर रोज ही तो इक बात नई से जी जलना है । कितने छाले फोड़ोगे, दिल कितना छोड़ोगे, खुशियों की सौगात को तुम कितना मोड़ोगे, जीने को हालात के संग ही तो चलना है । कुछ तुम भूलो, कुछ वो भूलें तो बात बनेगी, ग़र थाम लो उसका हाथ, सुलभ हर राह कटेगी, वर्ना ठोकर लगने से मुश्किल होगा संभलना      - डॉ० अनिल चड्डा

अब तक

आपके पत्र



Kamal Tamrakar

बहुत ही सुन्दर और लाजवाब
साहित्य सुधा परिवार के समस्त जन को साधुवाद

मान्यवर सम्पादक जी

सर्वप्रथम ह्रदय से आभार पत्रिका का लिंक भेजने के लिए | कुछ कवितायें पढ़ी जैसे आपके द्वारा रचित "कुछ तुम भूलो,कुछ वो भूलें "बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति है , शुची भावी जी की "ये कैसा बचपन "और अरुण कुमार प्रसाद जी की "आज अचानक जीवन मेरा हो उठा हाय !पराया रे" वर्षा वार्ष्णेय जी की " औरत सिर्फ औरत ही रह गयी |"

सभी रचनाकारों को हार्दिक बधाई |सभी की लेखनी को बल मिले |

धन्यवाद

सविता अग्रवाल "सवि "(कैनेडा)

नमस्कार चड्डा साहब

दिन प्रतिदिन, साल दर साल सफलता के नए कीर्तिमान गढ़ रहा हम सबका सहित्यसुधा। एक से बढ़कर एक रचना पढ़ने को मिलती है। साहित्य सुधा न केवल नवांकुरों का गर्मजोशी से स्वागत करता है बल्कि उनकी रचनाओं को भी यहाँ उचित स्थान दी जाती है। सभी रचनाकारों को मेरी ओर से बधाई शुभकामनाएँ।

रश्मि सुमन
साइको काउंसलर
पटना सिटी
पटना 800008
बिहार

इस अंक में

गीत, गज़ल, इत्यादि

आलेख, कहानियाँ, व्यंग्य, इत्यादि

कृपया अपनी रचनाएँ,जो मौलिक होनी चाहिए और यूनिकोड फॉण्ट में टंकित हों, निम्नलिखित
ई-मेल पर भेजें :-

sahityasudha2016@gmail.com
[यूनिकोड फॉण्ट में टाइप करने वाले सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करने के लिये इस लिंक पर क्लिक करें]

गोपनीयता नीति

"साहित्यसुधा को सब्सक्राइब करें"

सहित्यसुधा की सूचना पाने के लिये कृपया अपना ई-मेल पता भेजें