Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 1, अंक 12, मई(प्रथम) 2017



अधरों पर लिख दो

गोवर्धन यादव

                      
                       		
				


				इन अधरों पर लिख दो
				एक सुहाना  सा  नाम
				हो ना जाये अनबिहायी
				पीडा ………….  बदनाम

				सपनॊं ने नयनों को नीर ही दिया है
				चंदा ने चकोरी कॊ पीर ही दिया है
				वेदना है मीरा तो मरहम है श्याम	
							इन अधरों पर लिख दो
							सुन्दर सा  एक  नाम
				देखेंगी अलसाई रत जगी अखियां
				भुनसारे पनघट पर छेडेंगी सखियां
				बार-बार पूछेगी  सजना का  नाम

							इन अधरों पर लिख दो
							सुहाना  सा  एक नाम


www.000webhost.com

कृपया अपनी प्रतिक्रिया sahityasudha2016@gmail.com पर भेजें