Sahityasudha view
साहित्यकारों की वेबपत्रिका
मुखपृष्ठ


साहित्यकारों की रचना स्थली

वर्ष: 1, अंक 16, जुलाई(प्रथम), 2017



हाइकु

प्रजापति गुरुदेव


 
1)
बारिश हुई
दो जिस्म समा गये
एक दूजे मे

2) 
सत्य ढूंढने
गांधी नीकले है
गांव~शहर

3)
गांधारी बोली
अब आंखे खोल दूं?
अंधे लोगो से

4)
बरसात में
निकले है मेंढक
छाता लेकर
www.000webhost.com

कृपया अपनी प्रतिक्रिया sahityasudha2016@gmail.com पर भेजें