Sahityasudha view

साहित्यसुधा


साहित्यकारों की वेबपत्रिका

साहित्य की रचनास्थली


वर्ष: 2, अंक 35, अप्रैल(द्वितीय), 2018

लेखक या सम्पादक की लिखित अनुमति के बिना पूर्ण या आंशिक रचनाओं का पुनर्प्रकाशन वर्जित है। लेखक के विचारों के साथ सम्पादक का सहमत या असहमत होना आवश्यक नहीं।  सर्वाधिकार सुरक्षित। साहित्यसुधा में प्रकाशित रचनाओं में विचार लेखक के अपने हैं और साहित्यसुधा टीम का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है।

साहित्यसुधा एक सम्पूर्णतः साहित्यिक पत्रिका है जिसका उद्देश्य सभी रचनाकारों को प्रोत्साहित करके हिंदी को बढ़ावा  देना है | इसके माध्यम से हिंदी साहित्य की सभी विधाओं को सम्मिलित करने का प्रयास किया जाएगा। साहित्यसुधा

सम्पादक:- डॉ०अनिल चड्डा
साहित्यिक समाचार


भोजपाल साहित्य संस्थान की मासिक काव्य गोष्ठी का आयोजन संपन्न

भोजपाल साहित्य संस्थान , भोपाल की मासिक साहित्यिक गोष्ठी की श्रंखला के अंर्तगत दिनांक 30 मार्च 2018 को रचना पाठ का आयोजन भोपाल के भोपाल हाट स्थित 9 एम मसाला रेंस्तरां परिसर में किया गया। कार्यक्रम संस्था के कार्यकारी अध्यक्ष श्री सुदर्शन कुमार सोनी की अक्ष्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार श्री सुरेश कुशवाहा के मुख्य आतिथ्य व घनष्याम मैथिल के विषेश आतिथ्य में हुआ। ....पूरा पढ़ें


जानें अपनी प्रसन्नता को कैसे बढायें -
पढ़ें डॉ० अशकान फरहादी द्वारा रचित एवँ डॉ० अनिल चड्डा एवँ अन्य द्वारा अनुवादित पुस्तक
"प्रसन्नता का विकास"


"प्रसन्नता का निर्माण"
सम्पादक की ओर से
"खुदा अपना भी तो है यारो! "

खुदा तुम्हारा तो खुदा अपना भी तो है यारो,
खुदा के वास्ते, खुदा का नाम न बिगाड़ो यारो!

मज़हबी जुनून जीने के लिये अच्छा नहीं है,
आपसी लड़ाई में खुदा को गर्द में न उतारो यारो !

नहीं मालूम कहाँ से आये, कहाँ चले जायेंगें हम,
कम से कम जहाँ में कोई जिंदगी सँवारो यारो!

अपना घर बसे या उजड़े, खुदा की मर्जी है,
किसी का घर तुम बेवजह तो न उजाड़ो यारो!

सोच अपनी-अपनी, कर्म भी तो अपने ही हैं,
अपनी-अपनी जिंदगी तो चैन से गुजारो यारो !

     - डॉ० अनिल चड्डा
अब तक.......


कविता  |  कहानी  |  लघु-कथा  |  आलेख  |   व्यंग्य  | गीत अनूदित-साहित्य  |  नाटक  |  लेखक परिचय  | 
ग़ज़लें   | हाइकु   |  हिन्दी ब्लॉग  |  दोहे | नज़्में  | पुस्तक समीक्षा  |पुराने अंक| हास्य-कविता |
बच्चों का कोना|

आपके पत्र




डॉ.प्रमोद सोनवानी पुष्प -

प्रिय संपादक जी , सादर नमन ।
साहित्य सुधा का अप्रैल (प्रथम) अंक पढ़ा । उक्त अंक में शामिल सभी रचनायें सारगर्भित व शिक्षाप्रद है । एक से एक कविता , गजल , गीत , नग्में काबिलेतारीफ है । मजेदार अंक के सुन्दर प्रस्तुति हेतु बधाई हो ।।

नवीन सी.चतुर्वेदी -

जय श्री कृष्ण अनिल जी। आप की दी हुई लिंक पर आज देखा। आप साहित्य सेवार्थ बहुत अच्छे प्रयास कर रहे हैं। साधुवाद।

मोहन पांडे-

बहुत गंभीर अंक सारगर्भित रचनाओं से आनन्द मिला।

नरेंद्र श्रीवास्तव

बेहतरीन अंक।नमन संपादन एवं संयोजन। सभी रचनाकारों की लेखनी को नमन। मेरी रचनाओं को स्थान देने के लिये आपका आत्मीय आभार। हार्दिक शुभकामनाएं।

कविता गुप्ता।

नया अंक पढ़ने को मिला। पूर्व की भाँति सफल प्रयास है। आप बधाई के पात्र हैं।

शिखा कौशिक

सुंदर व सार्थक प्रयास हेतु हार्दिक बधाई व शुभकामनाएँ

प्रिय देवांगन -

साहित्य सुधा का प्रत्येक अंक बहुत ही बढ़िया और अच्छा लगता है ।इसमें सभी प्रकार के गीत गजल कहानी एवं लेख रहता है ।जिसे पढ़ कर मनोरंजन के साथ साथ ज्ञान वर्धक भी रहता है । सभी कलमकार एवं संपादक मंडल को बहुत बहुत बधाई ।

डॉ.विेजेंद्र प्रताप सिंह -

राजीव कुमार की लघुकथा -कसम' अच्‍छी लगी। डॉ योगेन्द्र नाथ शर्मा "अरुण" - का गीत 'जीवन-सरिता के कूल' उनके व्‍यवहार की तरह मीठा है। डॉ०अनिल चड्डा की नज्‍म'भूल गये हो' जिंदगी के कई लम्‍हे याद करा गई। अन्‍य सभी रचनाकारों को हार्दिक साधुवाद। पत्रिका की सामग्री अच्‍छी है। सम्‍पूर्ण संपादक मंडल को साधुवाद।

इस अंक में
कवितायेँ


1.डॉ०अनिल चड्डा
-

(i)मैं हारा हूँ
(ii)याद करना छोड़ दें

2.आशीष वैरागी -

(i)आख़री ख्वाहिश
(ii)वो जानता था


3.चन्द्र मोहन किस्कु -

(i)चन्द्र मोहन किस्कु

4.धर्मेन्द्र अहिरवार -

(i)अभिनेता
(ii)प्रेम कबूतर
(iii)उन दिनों

5.ध्रुव सिंह "एकलव्य'' -

(i)मच्छर बहुत हैं !

6.हरिहर झा -

(i)आफत का पानी
(ii)चिड़िया उड़े, उड़ती जाये
7.हेमाद्रि व्यास -

(i)जाने ये शहर कैसा है...

8.महेन्द्र देवांगन "माटी" -

(i)बैर भाव को छोड़ो

9.मोहिनी झा -

(i)द्यूत-सभा

10नरेंद्र श्रीवास्तव -

(i)मेरा शहर

.....कवितायेँ

11.पवनेष ठकुराठी ‘पवन’ -

(i)असली सत्य
(ii)मौन की आवाज
(iii)तुम्हारा दिखना

12.डॉ. प्रमोद सोनवानी ‘पुष्प’ -

(i)अत्याचार कब थमेगा



13.रश्मि सुमन -

(i)खुश रहकर जियो ज़िन्दगी

14.एस.पी. सुधेश -

(i) मेरा गाँव

ग़ज़लें

1.डॉ०अनिल चड्डा

(i)रोजाना गम में मरना है

2.धर्मेन्द्र अरोड़ा "मुसाफिर"


(i)हौंसला दिल का जगाना चाहता हूँ!

3.डा. दिनेश त्रिपाठी `शम्स’ -

(i)सयाने लोग
(ii)तुम्हारी याद में

4.कृष्णा कुमारी ‘कमसिन’ -

(i)क्या है
(ii)लौट कर आना ही होगा

5.पीताम्बर दास सराफ "रंक" -

(i)रात ज़िन्दगी से बात हुई

6.प्राण शर्मा -

(i)मुमकिन नहीं

.....ग़ज़लें

7.राजेन्द्र वर्मा -

(i)भूल
(ii) उन्मुक्तता

8.डॉ० रंजना वर्मा -

(i)चलो चलें
(ii)माँ

नज़्में


1.डॉ०अनिल चड्डा

(i)मुहब्बत के मायने

गीत


1.डॉ०अनिल चड्डा

(i)तो जीत कहाँ हासिल होगी

2. बृजराज किशोर 'राहगीर' -

(i)बाँच रहे हैं सूरज पंडित

3. सुनीता काम्बोज -

(i)आया है मधुमास नया
(ii)खोया बचपन ढूँढ रही हूँ

लघुकथायें


1.राजीव कुमार -

(i)ममता
(ii)उबकाई

रुबाईयाँ


1.नरेन्द्र श्रीवास्तव -

(i)भटकते राही के लिये...

हास्य-नाटक


1.दिनेश चन्द्र पुरोहित -

(i)"भोला विनायक[खंड-२]"


बच्चों का कोना


1.डॉ.प्रमोद सोनवानी पुष्प
-

(i)चलो मंगल ग्रह में
(ii)हवा चली
(iii)परियों का संसार

आलेख

1.कमला घटाऔरा -

(i) यह कैसा जीवणा

2. डॉ० मधु संधु -

(i)अन्तर्राष्ट्रीय विवाह और
 प्रवासी हिंदी कहानी


.....आलेख

3. प्रो. डॉ. शैलेन्द्रकुमार शर्मा -

(i) आधुनिक सामाजिक
 संदर्भों में संत कबीर


4. सुशील कुमार शर्मा -

(i)मानव जीवन में पौराणिक
 साहित्य का महत्व


5. तारकेश कुमार ओझा -

(i)माफी के मजे... !!

6. डॉ. विजेंद्र प्रताप सिंह -

(i)आदिवासियों की शिक्षा
 एवं साहित्य: एक अवलोकन


हाइकु



दोहे





पुस्तकें
1.डॉ०अनिल चड्डा



(i)होनहार हैं हम बच्चे:
भविष्य की धरोहर हम बच्चे
(बच्चों की कवितायेँ)







(ii)कुछ ज्ञात कुछ अज्ञात
(कविता संग्रह)


व्यंग्य


1.सुदर्शन कुमार सोनी
-

(i)हाय मैने उपवास रखा

कहानियाँ


1.डॉ०अनिल चड्डा -

(i)ममता का कर्ज

2.रश्मि पाठक -

(i) चेतना

क्षणिकायें
1. सुशील कुमार शर्मा -

(i)तुमसे जुड़ाव....

पुस्तक समीक्षा


1. ध्रुव सिंह "एकलव्य'' -

(i)पुस्तक : ”चीख़ती आवाज़ें"(काव्य संग्रह )
 कवि: ध्रुव ससंह "एकलव्य"
 समीक्षक: रवीन्द्र सिंह यादव


अनूदित साहित्य


1.डॉ०अनिल चड्डा -

(...गतांक से)डॉ० रिक लिंडल द्वारा
रचित अंग्रेजी पुस्तक
'The Purpose' का
डॉ० अनिल चड्डा
द्वारा हिंदी अनुवाद
(पढ़ें "अध्याय 5 -
"बुढ़ापा", "मृत्यु"
 एवँ "रूहों का अस्तित्व")


2. डॉ० रजनीकांत शांतिलाल शाह -

(i)"राम एक विचार का नाम है,राम अमर है, क्योंकि विचार अमर है" निबन्ध का हिंदी अनुवाद

ब्लॉग

1.डॉ०अनिल चड्डा -

(क)प्रेम अनुभूतियाँ


(ख)अनिल चड्डा ब्लॉग


2. शोभा जैन -

(क)शोभा जैन ब्लॉग्स


3. सुनील गज्ज़ानी-

(क)सुनील गज्जानी ब्लॉग्स

कृपया रचनाओं पर अपनी टिप्पणी भेजें!

आपका ई-मेल पता :
आपका नाम:
टिप्पणी:
 
कृपया अपनी रचनाएँ,जो मौलिक होनी चाहिए और यूनिकोड फॉण्ट में टंकित हों, निम्नलिखित
ई-मेल पर भेजें :-

sahityasudha2016@gmail.com
[यूनिकोड फॉण्ट इनस्टॉल करने के लिये यहाँ क्लिक करके डाउनलोड करें]

गोपनीयता नीति

कुछ अन्य साहित्यिक वेबपत्रिकाएँ

 1.साहित्यकुंज
 2.अनुभूति
 3.काव्यालय
 4.लघुकथा.com
 5.साहित्यसरिता
 6.हिन्दी नेस्ट
 6.सृजनगाथा
 7.कृत्या
 8.हिन्दी हाइकु
 9.सेतु साहित्य

साहित्यसुधा को सब्सक्राइब करें

सहित्यसुधा की सूचना पाने के लिये कृपया अपना ई-मेल पता भेजें 
000webhost logo