साहित्यसुधा _ साहित्यकारों की वेबपत्रिका
  

Sahityasudha view

साहित्यसुधा


साहित्यकारों की वेबपत्रिका

साहित्य की रचनास्थली


वर्ष: 3, अंक 43, अगस्त(द्वितीय), 2018

लेखक या सम्पादक की लिखित अनुमति के बिना पूर्ण या आंशिक रचनाओं का पुनर्प्रकाशन वर्जित है। लेखक के विचारों के साथ सम्पादक का सहमत या असहमत होना आवश्यक नहीं।  सर्वाधिकार सुरक्षित। साहित्यसुधा में प्रकाशित रचनाओं में विचार लेखक के अपने हैं और साहित्यसुधा टीम का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है।

साहित्यसुधा एक सम्पूर्णतः साहित्यिक पत्रिका है जिसका उद्देश्य सभी रचनाकारों को प्रोत्साहित करके हिंदी को बढ़ावा  देना है | इसके माध्यम से हिंदी साहित्य की सभी विधाओं को सम्मिलित करने का प्रयास किया जाएगा। साहित्यसुधा

सम्पादकीय मंडल:-
सम्पादक - डॉ०अनिल चड्डा
सह-सम्पादक - अखिल भंडारी


साहित्यिक समाचार
ओमप्रकाश क्षत्रिय सम्मानित

रतनगढ़ | प्रतिवर्ष बालसाहित्य संस्थान अल्मोड़ा उत्तराखंड द्वारा अखिल भारतीय स्तर पर बालकहानी प्रतियोगिता आयोजित की जाती है. इस प्रतियोगिता में विभिन्न स्तर पर बालकहानियां को आमंत्रित कर आयोजक समिति द्वारा एवं बच्चों द्वारा मूल्यांकित कहानियों को पुरस्कृत किया जाता है. इस वर्ष 2018 की अखिल भारतीय राजेंद्र सिंह बिष्ट बालकहानी प्रतियोगिता-2018 में नीमच जिले के बालसाहित्यकार ओमप्रकाश क्षत्रिय की बालकहानी "बादल मर गया" को तृतीय पुरस्कार प्राप्त हुआ . आप को सम्मान स्वरूप सम्मान पत्र,....

....पूरा पढ़ें

'मनहर ठहाका पुरस्कार' पद्मश्री सुनील जोगी को

महानगर की साहित्यिक,सामाजिक एवं सास्कृतिक संस्था 'साहित्य संगम' द्वारा प्रति वर्ष दिया जाने वाला राष्ट्रीय स्तर का 'मनहर ठहाका पुरस्कार' इस वर्ष प्रसिद्ध व्यंग्य कवि व पद्मश्री सुनील जोगी को प्रदान किया जाएगा ।यह घोषणा संस्था के अध्यक्ष राम स्वरूप गाडिया ने की ।संस्था के कार्याध्यक्ष जेपी खेमका ने बताया कि इस पुरस्कार के तहत इक्यावन हजार रुपए नकद,भव्य स्मृति चिन्ह, प्रदान किया जाएगा। संस्था मंत्री संतोष केजरीवाल....

....पूरा पढ़ें

सुशील शर्मा लालबहादुर शास्त्री साहित्यरत्न सम्मान व चेतना साहित्य सम्मान से सम्मानित

चेतना मध्यप्रदेश के तत्वाधान में साहित्यकार संतोष भावरकर नीर की पुस्तक "जीवन सुधा एवम नगर के साहित्यकार सुशील शर्मा की छह पुस्तकों "सरोकारों के आईने" विज्ञान अंवेषिका " गीत विप्लव " मन के मोती " अंतर्नाद "और अंतर्ध्वनि "का विमोचन सम्पन्न हुआ। समारोह वरिष्ठ साहित्यकार गुरु प्रसाद सक्सेना के मुख्य आथित्य में एवम वरिष्ठ साहित्यकार कुशलेन्द्र श्रीवास्तव की अध्यक्षता में तथा विदिशा के साहित्यकार शिव डोयले, वरिष्ठ पत्रकार राजेन्द्र हरदेनिया एवम मंजिल ग्रुप साहित्यिक मंच दिल्ली के राष्ट्रीय संयोजक सुधीर सिंह सुधाकर के विशिष्ट आथित्य में सम्पन्न हुआ।....

....पूरा पढ़ें






जानें अपनी प्रसन्नता को कैसे बढायें -
पढ़ें डॉ० अशकान फरहादी द्वारा रचित एवँ डॉ० अनिल चड्डा एवँ अन्य द्वारा अनुवादित पुस्तक का 11वाँ भाग
"प्रसन्नता का विकास"


हमारी अत्यधिक वांछित सूची, मुझे यह अभी चाहिये, आशा हमारे सभी कार्यों की प्रमुख प्रेरक शक्ति है
सम्पादक की ओर से
सभी भारतवासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई

"शीशे सा था वतन मेरा"

शीशे सा था वतन मेरा, तुमने है चकनाचूर किया,
स्वार्थवश तूने क्यों, भाई को भाई से दूर किया ।

निर्मल से दर्पण में दिखता था, हर चेहरे पर भारत का नूर,
हर टुकड़े में अब दिखने लगा है, बस अपनी 'मैं' का ही सुरूर,
देश पे मरने वालों ने ही, देश को है कमजोर किया।

अपनों को अपने घर से ही बेघर क्यों करते फिरते हो,
अपनों पर उठाना अंगुली ,क्यों अच्छी बात समझते हो,
कड़वी बातें कहने को, तुमने ही तो मजबूर किया ।
     - डॉ० अनिल चड्डा
अब तक.......


कविता  |  कहानी  |  लघु-कथा  |  आलेख  |   व्यंग्य  | गीत अनूदित-साहित्य  |  नाटक  |  लेखक परिचय  | 
ग़ज़लें   | हाइकु   |  हिन्दी ब्लॉग  |  दोहे | नज़्में  | पुस्तक समीक्षा  |पुराने अंक| हास्य-कविता |
बच्चों का कोना|

आपके पत्र


 

राजपाल गुलिया
rajpalgulia1964@gmail.com

एक सुंदर अंक की हार्दिक बधाई

प्रबोध गोविल
prabodhgovil@gmail.com

Pawan Anam ki kavita padhi.Ye aur bhi sundar ho jati, yadi ve isme 
neeche likhe sanshodhan kar len.[sanshodhan unke mail par n bhej 
kar yahan isliye bataye ja rahe hain, taki anya yuva lekhak bhi 
labhanvit hon-1.dusri line me "aansuon" par bindi lagayen.2.line 
7 me "aksh" ko "aks"likhen.3.line 11 me kadardanon ko "kadradanon" 
likhen.4.line 15 me "zamaat" ko jamaat" likhen.5.line 17 me "e" 
ko "ai"likhen.6.line2,6,8,12,15,aur 19 me "hain" se bindi hatakar 
"hai" kar den.


अरुणकांत शुक्ला 

आनंद कुमार की कहानी मेजिक रिजल्ट को यद्यपि कहानी की श्रेणी में रखा गया है, पर, 
यह बहुत ही सुन्दर व्यंग्य है| अनिल जी, आपकी नज्म और कविता दोनों ही बहुत अच्छी 
हैं| वैसे जुलाई का द्वतीय अंक में प्रकाशित लगभग सभी रचनाएँ स्तरीय और पठनीय हैं| 
सभी रचनाकारों को बधाई|

दिवाकर दत्त त्रिपाठी

जुलाई प्रथम पक्ष की साहित्यसुधा पढ़ी ,समस्त रचनाएँ उत्तम हैं ,और स्तरीय भी ।
समस्त संपादक मंडल को शुभकामनाएं !
                                   ----डा. दिवाकर दत्त त्रिपाठी
  
सविता अग्रवाल "सवि"  - 

प्रिय डॉ अनिल जी नमस्कार 

जून२०१८  द्वीतीय अंक प्राप्त हुआ | मेरी कविता को पत्रिका में स्थान देने के लिए हार्दिक धन्यवाद |सभी 
रचनाकारों को बधाई | आपके द्वारा रचित नज़्म "दिल जलाने वाली बात ना किया करो", सुधा भार्गव जी 
का बाल संस्मरण "बाग़ बगीचे खेत खलिहान", कमला घटऔरा जी की "फूल का सन्देश ",नीतू शर्मा जी 
की कविता "अस्तित्व " ने प्रभावित किया  सभी को अनेक शुभकामनाएं | 

धन्यवाद 

सादर 
सविता अग्रवाल "सवि" (केनेडा )


  
इस अंक में
कवितायेँ


1.डॉ०अनिल चड्डा -

(i)बेजान शब्द
(ii)दोषी

2.अनुपम सक्‍सेना -

(i)इंसान चाहिये या मशीन
(ii)ख्वाबों की लिपि

3.गरिमा -

(i)सावन आया

4.कवि जसवंत लाल खटीक -

(i)प्रीत का रोग ...
(ii)सोलह श्रृंगार

5.नरेश गुर्जर -

(i)वो शख्स



6.नीतू शर्मा -

(i)जय जवान जय जय किसान


7.पवनेष ठकुराठी ‘पवन’ -

(i)छुई-मुई की तरह
(ii)पहाड़ों में सावन

8.पीताम्बर दास सराफ "रंक" -

(i)जीवन जो हम समझे

9.रामदयाल रोहज -

(i)भारत माँ ने पुकारा है
(ii)गाँव

10.सरिता सुराना -

(i)हिरोशिमा दिवस और
 नागासाकी दिवस पर एक कविता-
 समय की रेत पर




11.श्रीयांश गुप्ता -

(i)श्रापित संपदा

12.सुशील यादव -

(i)लोकमान्य बाल गंगाधर
 तिलक की स्मृति में


13.उमाशंकर सैनी -

(i)आयो सावन फिर मोहने.......

14.वर्षा वार्ष्णेय -

(i)प्रेम की वीणा

15.विश्वम्भर पाण्डेय 'व्यग्र' -

(i)शिव-वंदन

16.दीपक शर्मा -

(i)15 अगस्त ज़िंदाबाद

गीत, गज़ल, इत्यादि


ग़ज़लें

1. नरेन्द्र श्रीवास्तव -

(i)छोटी सी है ये जिंदगानी

2. बृजेश पाण्डेय 'बृजकिशोर' -

(i)चर्चे शहर में अब ये आम हो गए हैं

बच्चों का कोना


1. नीरजा द्विवेदी -

(i)जब हम शिकार पर गये.------

2. डॉ. प्रमोद सोनवानी ‘पुष्प’ -

(i)प्यारी बरखा



नज़्में


1.डॉ०अनिल चड्डा

(i)जिंदगी बेमानी सी लगती है

गीत


1.डॉ०अनिल चड्डा

(i)हँसी कहाँ से आएगी?

2.डॉ. दिवाकर दत्त त्रिपाठी
-

(i)कंकड़ पत्थर भी बन जाते हैं

3.डॉ. सुभद्रा खुराना
-

(i)हिंदुस्तान हमारा

4.सुशील कुमार शर्मा -

(i)सत्य का संधान दो माँ



हाइकु


1. अशोक बाबू माहौर -

(i)सबेरा नहीं ...

2. कमला घटाऔरा -

(i)राखी पर हाइकु

दोहे

1. नरपत वैतालिक -

(i)दई न करियो भोर

2.रमेश शर्मा -

(i)दोहे रमेश के स्वतंत्रता दिवस पर

आलेख, कहानियाँ, व्यंग्य, इत्यादि
लघुकथायें


1.अमित राज अमित -

(i)अपना-पराया
(ii)भगवान भला करें

2.अंकित भोई 'अद्वितीय' -

(i)दलित की दीवाली

3.चंद्रेश कुमार छतलानी -

(i)दशा

4.जस राज जोशी उर्फ़ लतीफ़ नागौरी -

(i)बालक की मुस्कान

5.राजीव कुमार -

(i)अनाथ आश्रम
(ii)बाल मजदूरी बंद हो
(iii)गुरु-शिष्य

6.सतविन्द्र कुमार राणा -

(i)डायरी का अंतिम पृष्ठ

7.शुचि 'भवि' -

(i)रक्षा बंधन

पुस्तक समीक्षा


1.डा. बंदना चंद
-

(i)बाल मन की कविताएँ:
 मि फौजी बणूँल


2.ओमप्रकाश क्षत्रिय “प्रकाश” -

(i)नई सदी की लघुकथाएं

3.राहुल देव -

(i)पेट और तोंद :
 एक वैचाकरि व्यंग्य-संग्रह


4.राजेश कुमार शर्मा"पुरोहित" -

(i)पितृयान से देवयान

कहानियाँ


1.सुशील कुमार शर्मा -

(i)एक वादा -देश पहल

2.डॉ वीणा छंगाणी -

(i)भयभीत मन

हास्य-नाटक


1.दिनेश चन्द्र पुरोहित -

(i)"दबिस्तान-ए-सियासत"(अंक छ:)


व्यंग्य





धारावाहिक उपन्यास


1. प्रबोध गोविल -

(i)पढ़ें प्रबोध गोविल का
 धारावाहिक उपन्यास 'अकाब'
 का अध्याय आठ


संस्मरण


1. सुधा भार्गव -

(i)आश्चर्य पर आश्चर्य

आलेख

1.डा. बंदना चंद
-

(i)शीतांशु भारद्वाज का
 उपन्यास: डॉक्टर आनंद


2.घनश्याम बादल
-

(i)श्रावणी कांवड़ यात्रा
(ii)श्रावणी शिवरात्रि सबसे फलदाई !

3. राजेश कुमार शर्मा"पुरोहित" -

(i)शहंशाह -ए- तरन्नुम- मोहम्मद रफी
पुण्य तिथि:- 31 जुलाई 2018


4. रवि सूदन -

(i)हमारी प्रगति की दास्तान

5.तारकेश कुमार ओझा -

(i)सह लिए तो सही ,
 नहीं तो नालायक ...!!


अनूदित साहित्य


1.डॉ०अनिल चड्डा -

(...गतांक से)डॉ० रिक लिंडल द्वारा
रचित अंग्रेजी पुस्तक
'The Purpose' का
डॉ० अनिल चड्डा
द्वारा हिंदी अनुवाद
- पढ़ें "अध्याय 8 का अगला भाग"[प्रेम का उद्भव]


2.डॉ.रजनीकान्त एस.शाह -

(i) अनुदित निबंध - "पुष्प की सुगंध ही पुष्प का चरित्र"

3.प्रजापति गुरुदेव -

(i) अनुदित कविता -"इतना क्यों डरते हो ?"

पुस्तकें

होनहार हैं हम बच्चे:
भविष्य की धरोहर हम बच्चे
(बच्चों की कवितायेँ)

मन की बातें जग भी जाने

कुछ ज्ञात कुछ अज्ञात
(कविता संग्रह)


बदलते रिश्तों का समीकरण
लेखिका - रोली अभिलाषा

कृपया रचनाओं पर अपनी टिप्पणी भेजें!

आपका ई-मेल पता :
आपका नाम:
टिप्पणी:
 
कृपया अपनी रचनाएँ,जो मौलिक होनी चाहिए और यूनिकोड फॉण्ट में टंकित हों, निम्नलिखित
ई-मेल पर भेजें :-

sahityasudha2016@gmail.com
[यूनिकोड फॉण्ट इनस्टॉल करने के लिये यहाँ क्लिक करके डाउनलोड करें]

गोपनीयता नीति

कुछ अन्य साहित्यिक वेबपत्रिकाएँ

 1.साहित्यकुंज
 2.अनुभूति
 3.काव्यालय
 4.लघुकथा.com
 5.साहित्यसरिता
 6.हिन्दी नेस्ट
 6.सृजनगाथा
 7.कृत्या
 8.हिन्दी हाइकु
 9.सेतु साहित्य

"साहित्यसुधा को सब्सक्राइब करें"

सहित्यसुधा की सूचना पाने के लिये कृपया अपना ई-मेल पता भेजें 
www.000webhost.com